Virat kohli ki biography – janiye विराट कोहली की cricket history

Virat kohli ki biography : Doston Indian cricket जैसे पहले Sachin tendulkar की वजह से जाना जाता tha. Aise ही अब Virat kohli की वजह से जाना जाता hai. Doston Virat ने भारतीय क्रिकेट का जैसे रूप ही बदल कर रख दिया।

Aaj हम आपको Virat का क्रिकेट सफर start से end तक बताने वाले hain. Virat kohli का history of cricket बहुत ही शानदार रहा hai. Aur इसी के चलते वो आज इस मुकाम पर हैं। तो चलिए दोस्तों lets read about virat kohli biography


Virat kohli ki biography

दोस्तों आज की तारीख में virat kohli को कौन नहीं जानता। इस नाम की जितनी तारीफ़ की जाये उतनी ही कम hogi. Apko बता दें कि virat kohli भारतीय क्रिकेट टीम के तीनों फॉर्मेट के current captain hain. Sirf भारत देश में ही नहीं बल्कि पूरे world में इनकी अच्छी Fan Following hai. Jitni तेज़ी से virat ने रन बनाये उतनी ही तेज़ी से उन्होंने लोकप्रियता भी paayi. Cricket के विशेषज्ञ उन्हें Future क्रिकेट का भगवान भी कहते hain. Jab Ms Dhoni ने अपने तीनो फॉर्मेट की कप्तानी से सन्यास लिया, तब से उन्होंने भारतीय क्रिकेट टीम की कप्तानी संभाली हुई hai. Apko बता दें कि virat kohli को Run machine और Chase master के नाम से भी जाना जाता hai. Virat का मानना है की बड़े लक्ष्य का पीछा करने में उन्हें मज़ा आता है।

Virat kohli ki biography

virat kohli का जन्म 5 नवंबर, 1988 को Delhi के एक पंजाबी परिवार में hua. Unke पिता जी ( प्रेम कोहली ) पेशे से एक lawyer थे और माँ ( सरोज ) Housewife hain. Apko बता दें कि virat kohli अपने घर में सबसे छोटे hain. Unka एक बड़ा भाई और एक बड़ी बहन भी hai. Virat kohli की माँ का कहना है कि 3 साल की उम्र से ही विराट को क्रिकेट का शौक लग गया tha. Virat बताते हैं कि बचपन में मैं अपना अधिकतर समय पिता जी के साथ cricket practice में गुज़ारता tha. New delhi के Uttam nagar में रहने वाले विराट ने विशाल भारतीय स्कूल से अपनी शिक्षा ग्रहण की।


विराट कोहली की cricket history

Virat जब बचपन में ही क्रिकेट खेलने के बहुत शौकीन थे तब उनके आस पड़ोस के लोग उनके पिता जी को विराट को Cricket academy join कराने की सलाह दिया करते थे। Virat ने मात्र 9 साल की उम्र में दिल्ली क्रिकेट ऐकडमी जॉइन की जहाँ उन्होंने अपने कोच Rajkumar sharma से ट्रेनिंग ली। उनकी माँ बताती हैं कि विराट खेल के साथ साथ पढाई में भी अच्छा था। साल 2002 में Virat ने दिल्ली U-15 से क्रिकेट की शुरुआत की जहाँ से उन्होंने आगे बढ़ने के लिए कड़ी महनत करनी शुरू कर दी। साल 2004 में वे U-17 के सदस्य बने जहाँ Virat विजय मर्चेंट ट्रॉफी के लिए खेल रहे थे, वहाँ उन्होंने 4 मैचेस में करीब 400 से ज़्यादा रन बनाये।

ये भी देखें : Brendon mccullum biography Hindi | Cricket History of BAZZ

जहाँ उनका का समय बहुत अच्छा बीत रहा था वहीँ उनकी ज़िन्दगी में एक बेहद दुखद पल भी आया, 18 दिसंबर 2006 को एक दिमागी दौरे के कारण उनके पिता जी की Death हो गयी थी। Virat की ऑंखें आज भी उस पल को याद करके नम हो जाती हैं। आज भी Interview में वे अपनी सफलता के पीछे अपने पिता जी का हाथ बताते हैं। जुलाई 2006 में विराट को भारत की U-19 टीम में चुन लिया था। उनका पहला विदेशी दौरा England में था जहाँ उन्होंने करीब 3 मैच में 100 से ज़्यादा रन बनाये। पिता की मृत्यु के बाद भी विराट ने हिम्मत नहीं हारी बल्कि उन्होंने और भी जी जान से Cricket खेलना शुरू kar दिया और इसी कारण वे आज भारत के दिल में बस्ते हैं।


The Chase Master – Virat Kohli

Virat मार्च 2008 में भारत U-19 के कप्तान बने। World Cup U-19 2008 में कप्तानी कमान सँभालते हुए उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया। 2009 में Sri Lanka दौरे के लिए उन्हें Indian cricket team में चुना गया जहाँ Sachin tendulkar और Virender sehwag को चोट लगने के कारण उन्हें उनकी जगह खेलने का मौका दिया गया। वहाँ उन्होंने अपना पहला अर्धशतक जड़ा। तबसे Virat भारतीय क्रिकेट दीवानो के दिलों में बस्ते हैं और तबसे उन्होंने कभी पीछे मुड़ कर नहीं देखा। विराट आज तीनो फॉर्मेट के captain ऐसे ही नहीं हैं इसके पीछे उनकी बरसों की कड़ी महनत है। वे कहते हैं कि “main yeh nahin dekhta ki saamne wala kitna taakatvar ya kitna bada khaladi hai, main bas apne Fans ka pyaar aur apna paseene bahane wali practice yaad rakhta hoon”

तो दोस्तों ये थी Virat kohli ki biography, मैं आशा करता हूँ कि आपको यह बहुत पसंद आयी होगी। अगर आपको लगता है कि हमसे कोई चीज़ Miss हुई है या आप किसी भी celebrity ki biography चाहते हैं तो Please हमें Comment करके ज़रूर बताएं।

और देखें

8 thoughts on “Virat kohli ki biography – janiye विराट कोहली की cricket history”

  1. you’re in reality a excellent webmaster. The web site loading velocity is amazing.
    It seems that you are doing any unique trick. In addition, The contents are masterpiece.

    you have performed a magnificent activity in this subject!

  2. Pingback: Ricky ponting autobiography Hindi | जानिए Ricky ponting के बारे में

  3. Everything is very open with a clear explanation of the challenges.
    It was truly informative. Your site is useful.
    Thanks for sharing!

    1. Thanxx So Much Dear and glad to see your thought. Afterall these things motivates me a lot. I will bring lot of interesting articles for you. Keep supporting me ♥

  4. Pingback: Best motivational story in hindi | Karoly Takacs life story हिंदी में

  5. I am genuinely pleased to glance at this webpage posts which consists of tons of valuable information, thanks
    for providing these kinds of data.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top
error: Alert: Content is protected !!
%d bloggers like this: